Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी

दिल से चाहने वाली शायरी : हैलो दोस्तो इस पोस्ट मे Dil Se Chahane Wali Shayari आपके लिए लाये हे जो की आपको बहोत प्र्शंद आएगी। ओर अगर आपको ओर भी एसे पोस्ट चाहिए तो कमेंट कर के जरूर बताए हम आपके लिए ओर भी एसे पोस्ट लाएँगे जो की आपको बहोत प्र्शंद आएगे।

काश एक ख्वाहिश पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आके गले लगा ले मेरी इजाजत के बगैर।

घर से बाहर वो नक़ाब मे निकली
सारी गली उनकी फिराक मे निकली
इनकार करते थे वो हमारी मोहब्बत से
और हमारी ही तस्वीर उनकी किताब से निकली

कुछ नशा तेरी बात का है,
कुछ नशा धीमी बरसात का है,
हमें तुम यूँही पागल मत समझो,
ये दिल पर असर पहली मुलाकात का है!!

दिल से चाहने वाली शायरी।

चेहरे पे मेरे जुल्फों को फैलाओ किसी दिन,
क्यूँ रोज गरजते हो बरस जाओ किसी दिन,
खुशबु की तरह गुजरो मेरी दिल की गली से,
फूलों की तरह मुझपे बिखर जाओ किसी दिन।

Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी
Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी

एक पल के लिए जब तू पास आता है,
मेरा हर लम्हा ख़ास बन जाता है,
सँवरने सी लगती है ये ज़िन्दगी अपनी,
जब भी तू मेरी बाहों में मुस्कुराता है।

संगमरमर के महल में तेरी तस्वीर सजाऊंगा,
मेरे इस दिल में ऐ सनम तेरे ख्वाब सजाऊंगा,
आजमा के देख ले तेरे दिल में बस जाऊंगा,
प्यार का हूँ प्यासा तेरे आगोश में सिमट जाऊॅंगा.

दिल से चाहने वाली शायरी

ना समेट सकोगे क़यामत तक जिसे तुम,
कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं।

तेरी आरज़ू में हमने बहारों को देखा,
तेरे ख्यालों में हमने सितारों को देखा,
हमें पसंद था बस आपका ही साथ,
वर्ना इन आँखों ने तो हजारों को देखा।

हम आपके प्यार में कुछ ऐसा कर जायेंगे,
बन कर खुशबू इन हवाओं में बिखर जायेंगे,
भुलाना अगर चाहो तो साँसों को रोक लेना,
वरना साँस भी लोगे तो दिल में उतर जायेंगे.

चाहने वाली शायरी।

रोज वो ख़्वाब में आते हैं गले मिलने को,
मैं जो सोता हूँ तो जाग उठती है किस्मत मेरी।

ये ज़ुल्फ़ अगर खुलके बिखर जाये तो अच्छा,
इस रात की तकदीर संवर जाए तो अच्छा,
जिस तरह से थोड़ी सी तेरे साथ कटी है,
बाकी भी इसी तरह गुजर जाए तो अच्छा।

Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी
Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी

तेरे रुखसार पर ढले हैं मेरी शाम के किस्से,
खामोशी से माँगी हुई मोहब्बत की दुआ हो तुम।

आँखों की चमक पलकों की शान हो तुम,
चेहरे की हँसी लबों की मुस्कान हो तुम,
धड़कता है दिल बस तुम्हारी आरज़ू में,
फिर कैसे ना कहूँ कि मेरी जान हो तुम…

आज बारिश में तेरे संग नहाना है,
सपना ये मेरा कितना सुहाना है,
बारिश की बूंदें जो गिरे तेरे होंठों पे,
उन्हें अपने होंठों से उठाना है।

धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है,
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है,
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नहीं देता,
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है।

जान है मुझे ज़िंदगीं से प्यारी,
जान के लिए कर दू कुर्बान यारी,
उसके लिए छोड़ दू यारी तुम्हारी,
पर तुमसे क्या छुपाना तुम ही तो हो जान हमारी.

heartfelt poetry.

तुम मिल गए तो मुझ से नाराज है खुदा,
कहता है कि तू अब कुछ माँगता नहीं है।

Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी
Chahane Wali Shayari | दिल से चाहने वाली शायरी

मैने कब तुझसे ज़माने की खुशी माँगी है,
एक हल्की-सी मेरे लब पे हँसी माँगी है,
सामने तुझको बिठाकर तेरा दीदार करूँ,
जी में आता हैं जी भर के तुझे प्यार करूँ।

तुझसे रु-ब-रु होकर बातें करूँ,
निगाहें मिलाकर वफ़ा के वादे करूँ,
थाम कर तेरा हाथ बैठ जाऊं तेरे सामने,
तेरी हसीन सूरत के नज़ारे करूँ।

दिल से चाहने वाली शायरी

न जाने किस तरह का इश्क कर रहे हैं हम,
जिसके हो नहीं सकते उसी के हो रहे हैं हम।

कुछ दूर मेरे साथ चलो
हम सारी कहानी कह देंगे
समझे ना तुम जिसे आँखों से
वो बात मुँह ज़बानी कह देंगे।

दिल के समुन्दर में एक गहराई है,
उसी गहराई से तुम्हारी याद आई है,
जिस दिन हम भूल जाये आपको,
समझ लेना हमारी मोत आई है.

दिल का तमाशा देखा नहीं जाता
टुटा हुआ सितारा देखा नहीं जाता
अपनी हिस्से की सारी ख़ुशी आपको दे दूँ
मुझसे आपका ये उदास चेहरा देखा नहीं जाता

दिल से चाहने वाली शायरी इन हिन्दी।

मेरे दिल का कहा मानो एक काम कर दो,
एक बेनाम सी मोहब्बत मेरे नाम कर दो,
मेरे ऊपर एक छोटा सा एहसान कर दो,
एक दिन सुबह को मिलो और शाम कर दो।

रुका हुआ है अज़ब धूप-छाँव का मौसम,
गुजर रहा है कोई दिल से बादलों की तरह।

सर्द हवाओं ने गालों को छुआ है,
शायद तुमने मेरा नाम लिया होगा,
दिल की धड़कन रुक सी गयी है सीने में,
शायद तुमने मुझे थाम लिया होगा।

दिल से चाहने वाली शायरी

अगर मैं हद से गुज़र जाऊं तो मुझे माफ़ करना,
तेरे दिल में उत्तर जाऊं तो मुझे माफ़ करना,
रात में तुझे देख के तेरे दीदार के ख़ातिर,
पल भर जो ठहर जाऊं तो मुझे माफ़ करना!!

जितना प्यार है आपसे उससे और
ज्यादा पाने को जी चाहता है,
जाने वो कौन सी खूबी है आपमें कि
हर रिश्ता आपसे बनाने को जी चाहता है

चाहने वाली शायरी इन हिन्दी।

बदलना आता नहीं हमें मौसम की तरह,
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं,
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक,
कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं..

मंजिल भी तुम हो तलाश भी तुम हो
उम्मीद भी तुम हो आस भी तुम हो
इश्क भी तुम हो और जूनूँ भी तुम ही हो
अहसास तुम हो प्यास भी तुम ही हो।

की है कोई हसीन खता हर खता के साथ,
थोड़ा सा प्यार भी मुझे दे दो सज़ा के साथ।

दिल से चाहने वाली शायरी

चेहरे पे मेरे जुल्फों को फैलाओ किसी दिन
क्यूँ रोज गरजते हो बरस जाओ किसी दिन
खुशबु की तरह गुजरो मेरी दिल की गली से
फूलों की तरह मुझपे बिखर जाओ किसी दिन।

वादा है जब भी मुझसे मिलोगे,
हर बार इश्क होगा,
मोहब्बत पूरी शिद्दत से होगी,
प्यार बेपनाह होगा।

पाने से खोने का मज़ा कुछ और है,
बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है,

Leave a Comment