प्यार का एहसास शायरी | Pyar ka Ehsaas Shayari

हैलो दोस्तो आजा हम इस पोस्ट मे प्यार का एहसास शायरी | Pyar ka Ehsaas Shayari लाये हे। जो कि आपको बहोत प्र्शंद आएगा। अगर आपको यह हमारा पोस्ट प्र्शंद आए तो कमेंट कर के जरूर बतायागा की आपको हमारा पोस्ट केशा लगा।

ये दिल ही तो जानता है
मेरी पाक मोहब्बत का आलम,
की मुझे जीने के लिए
सांसों की नही तेरी ज़रुरत है!!

मेरा हर लम्हा चुराया आपने,
आँखों को एक ख्वाब देखाया आपने,
हमें ज़िंदगी दी किसी और ने,
पर प्यार में जीना सिखाया आपने.

प्यार का एहसास शायरी | Pyar ka Ehsaas Shayari
प्यार का एहसास शायरी | Pyar ka Ehsaas Shayari

एहसास के दामन में आंसू गिरा कर देखो,
प्यार कितना है कभी हमे आज़मा कर देखो,
बिछड़ कर तुमसे क्या होगी दिल की हालत,
कभी किसी आईने पर पत्थर गिरा कर देखो.

Feeling of love poetry.

अपनी जिंदगी में हमने तेरी जरूरत देखी है,
तेरी आँखो में हमने अपने लिए मोहब्बत देखी है,
जितनी बार खुद को भी नही देखा होगा,
उतनी बार हमने तेरी सूरत देखी है।

छू गया जब कभी ख्याल तेरा
दिल मेरा देर तक धड़कता रहा
कल तेरा ज़िक्र छिड़ गया घर में
और घर देर तक महकता रहा।

प्यार का एहसास शायरी

दिल की बातों को आज कहना है तुमको,
धड़कन बनके तेरे दिल में रहना है हमको,
कही रुक ना जाए यह मेरी साँसें,
इसलिए हर पल तेरे साथ जीना है हमको.

फ़िज़ा में महकती शाम हो तुम,
प्यार का छलकता जाम हो तुम,
सीने में छुपाये फिरते हैं तुम्हें,
मेरी ज़िन्दगी का दूसरा नाम हो तुम।

रोज साहिल से समंदर का नजारा न करो,
अपनी सूरत को शबो-रोज निहारा न करो,
आओ देखो मेरी नजरों में उतर कर खुद को,
आइना हूँ मैं तेरा मुझसे किनारा न करो।

प्यार का एहसास शायरी
प्यार का एहसास शायरी

इश्क़ है या इबादत
अब कुछ समझ नही आता,
एक खूबसूरत ख्याल हो तुम
जो दिल से नही जाता।

प्यार का एहसास शायरी

गम ने हसने न दिया, ज़माने ने रोने न दिया,
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया,
थक के जब सितारों से पनाह ली,
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया.

जाने उस शख्स को कैसा ये हुनर आता है
रात होती है तो आँखों में उतर आता है
मैं उस के ख्यालों से बच के कहाँ जाऊं
वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है

प्यार का एहसास शायरी

रात गुमसूँ है मगर चेन खामोश नही
कैसे कह दू आज फिर होश नही,
ऐसा डूबा तेरी आखो की गहराई मैं,
हाथ में जाम है मगर पीने का होश नही

कभी लफ्ज़ भूल जाऊं कभी बात भूल जाऊं
तूझे इस कदर चाहूँ कि अपनी ज़ात भूल जाऊं
कभी उठ के तेरे पास से जो मैं चल दूँ
जाते हुए खुद को तेरे पास भूल जाऊं।

Pyar ka Ehsaas Shayari
Pyar ka Ehsaas Shayari

जाने उस शख्स को कैसा ये हुनर आता है,
रात होती है तो आँखों में उतर आता है,
मैं उस के ख्यालों से बच के कहाँ जाऊं,
वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है..

प्यार का एहसास शायरी।

कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है;
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है;
कब तलक बयाँ करूँ दिल की बात;
हर सांस में अब तेरा एहसास आ जाता है।

ठहर जा नजर में तू
जी भर के तुझे देख लूं
बीत जाए ना ये पल कहीं
इन पलों को में समेट लूं

कोई है जो दुआ करता है,
अपनों मे मुझे भी गिना करता है,
बोहत खुशनसीब समझते है खुद को हम,
दूर रह कर भी जब कोई प्यार किया करता है…

प्यार का एहसास शायरी

तेरे सीने से लगकर तेरी आरजू बन जाऊँ
तेरी साँसो से मिलकर तेरी खुश्बू बन जाऊँ
फासले ना रहें कोई तेरे मेरे दरमिआँ
मैं…मैं ना रहूँ बस तू ही तू बन जाऊँ।

जन्म-जन्म जो साथ निभाए,
तुम ऐसा बंधन बन जाओ,
मैं बन जाऊं प्यार भरा दिल,
तुम दिल की धड़कन बन जाओ।

तुम दूर हो मगर दिल में ये एहसास होता है,
कोई है जो हर पल दिल के पास होता है,
याद तो सब की आती है मगर,
तुम्हारी याद का एहसास ही कुछ ख़ास होता है..

मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना कोई लम्हा,
मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाना।

एहसास शायरी इन हिन्दी।

दिल में है जो बात होंठों पे आने दे,
मुझे जज्बातों की लहरों में खो जाने दे,
आदी हो चुका हूँ मैं तेरी निगाहों का,
अपनी निगाहों के समंदर में डूब जाने दे।

तेज बारिश में कभी सर्द हवाओं में रहा,
एक तेरा ज़िक्र था जो मेरी सदाओं में रहा,
कितने लोगों से मेरे गहरे रिश्ते थे मगर,
तेरा चेहरा ही सिर्फ मेरी दुआओं में रहा।

प्यार का एहसास शायरी

खुदा करे वो मोहब्बत जो तेरे नाम से है,
हजार साल गुजरने पे भी जवान ही रहे।

मंजिल भी तुम हो तलाश भी तुम हो,
उम्मीद भी तुम हो आस भी तुम हो,
इश्क भी तुम हो और जूनूँ भी तुम ही हो,
अहसास तुम हो प्यास भी तुम ही हो।

ख़ामोश रात में सितारे नई होते,
उदास आँखों में रंगीन नज़ारे नई होते,
हम कभी ना करते याद आपको,
अगर आप इतने प्यारे ना होते..

ऐ शख्स तेरा साथ मुझे हर शक्ल में मंज़ूर है,
यादें हों कि खुशबू हो, यक़ीं हो कि ग़ुमान हो।

ये तेरे इश्क का कितना हसीन एहसास है,
लगता है जैसे तू हर-पल मेरे साथ है,
मोहब्बत तेरी दीवानगी बन चुकी है मेरी,
अब जिंदगी की आरज़ू सिर्फ तेरा साथ।

मेरे दिल ने जब भी दुआ माँगी है,
तुझे माँगा है तेरी वफ़ा माँगी है,
जिस मोहब्बत को देख के दुनिया को रश्क आये,
तेरे प्यार करने की वो अदा माँगी है।

 

Leave a Comment