Gulzar Shayari in Hindi, Gulzar Shayari in Hindi 2 lines, Zindagi Shayari.

This post we are going to share the best : Gulzar Shayari in Hindi, Gulzar Shayari in Hindi 2 lines, Zindagi Shayari.

आख़िरी बार मैं कब उससे मिला याद नहीं,
बस यही याद है कि वो शाम बहुत भारी थी।

I don’t remember the last time I met him,
Just remember that that evening was very heavy.

सुना हैं काफी पढ़ लिख गए हो तुम,
कभी वो भी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते हैं।

I have heard that you have read and written a lot,
Sometimes read even what we can’t say.

हम ने अक्सर तुम्हारी राहों में,
रुक कर अपना ही इंतिज़ार किया।

We have often walked in your paths,
He stopped and waited for himself.

Gulzar Shayari in Hindi.

शाम से आँख में नमी सी है,
आज फिर आप की कमी सी है.
दफ़्न कर दो हमें के साँस मिले,
नब्ज़ कुछ देर से थमी सी है

There is moisture in the eyes since evening,
You are lacking again today.
Bury us let’s breathe,
pulse has stopped for a while

आप के बाद हर घड़ी हम ने,
आप के साथ ही गुज़ारी है।

Every hour after you, we
Spent with you.

ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा,
क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा।

Life just happened like this,
With the convoy and the journey is lonely.

कोई पुछ रहा हैं मुझसे मेरी जिंदगी की कीमत,
मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना।

Someone is asking me the value of my life,
I miss you smiling lightly.

मैंने दबी आवाज़ में पूछा? मुहब्बत करने लगी हो?
नज़रें झुका कर वो बोली! बहुत।

I asked in a hushed voice? Have you started loving?
She said, rolling her eyes! very.

कुछ अलग करना हो तो भीड़ से हट के चलिए,
भीड़ साहस तो देती हैं मगर पहचान छिन लेती हैं।

If you want to do something different, then walk away from the crowd,
The crowd gives courage but takes away the identity.

बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती।

burns deep inside,
The complaints that didn’t go away.

उम्रकैद की तरह होते हैं कुछ रिश्ते…
जहाँ जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नही…

गुलज़ार शायरी इन हिंदी.

Some relationships are like life imprisonment.
Where release is not possible even by giving bail.

फिर वहीं लौट के जाना होगा,
यार ने कैसी रिहाई दी है।

Then have to go back there,
What a release dude has given.

मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में,
​बस हम गिनती उसी की करते है जो हासिल ना हो सका।

If you get so much in this life,
We just count that which could not be achieved.

बेख़्याली में एक ख़्याल आया है,
क्या कभी उसे भी मेरा ख़्याल आया है…

A thought has arisen in Bekhyali,
Has he ever thought of me?

मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद से पहले सुला देता,
हूँ मगर रोज़ सुबह ये मुझसे पहले जाग जाती है।

Every night I would put all my dreams to sleep before myself,
But every morning she wakes up before me.

वक़्त रहता नहीं कहीं टिक कर,
आदत इस की भी आदमी सी है।

Time doesn’t stay anywhere
The habit of this too is like a man.

जिस साल तुम्हें गले लगाएंगे,
हम तो बस वही साल ईद मनाएंगे

The year I hug you,
We will celebrate Eid only in the same year

Leave a Comment