दो लाइन फेसबुक शायरी। Two Line Facebook Love shayari.

हेलो दोस्त इस पोस्ट में मैं आपको दो लाइन फेसबुक शायरी की बारे में है। और मुझे उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको अच्छी लगेगी।

सच्ची है मेरी मोहब्बत आजमा कर देख लो
करके यकीन मुझ पर मेरे पास आकर देख लो
बदलता नही सोना कभी अपना रंग
जितनी बार दिल करे आग लगा के देख लो.

दो लाइन फेसबुक शायरी। Two Line Facebook Love shayari
दो लाइन फेसबुक शायरी। Two Line Facebook Love shayari

मेरे दिल का दर्द किसने देखा है
मुझे बस खुदा ने तड़पते देखा है
हम तन्हाई में बैठे रोते है
लोगो ने हमे महफ़िल में हस्ते हुए देखा है.

दो लाइन फेसबुक शायरी।

उदास हूँ पर तुझसे नाराज़ नहीं
तेरे दिल में हूँ पर तेरे पास नहीं
झूठ कहूँ तो सब कुछ है मेरे पास
और सच कहूँ तो तेरे सिवा कुछ नहीं

  1. दो लाइन हिन्दी शायरी फेसबुक।
    1. मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता
    2. कुछ रिश्तो का कोई तोल नहीं होता
    3. वैसे लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर
    4. पर कोई आप की तरह अनमोल नहीं होता।
  2. दो लाइन हिंदी शायरी।
    1. दिल की किताब में गुलाब उनका था
    2. रात की नींद में ख्वाब उनका था
    3. कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा
    4. मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था.

उन्हें चाहना हमारी कमजोरी है
उनसे कह नही पाना हमारी मजबूरी है
वो क्यूँ नही समझते हमारी खामोशी को
क्या प्यार का इज़हार करना जरूरी है.

इस दिल को अगर तेरा एहसास नही होता ….
तू दूर भी रहकर यूं दिल के पास नही होता ….
इस दिल ने तेरी चाहत कुछ ऐसे बसा ली है ….
इक लम्हा भी तुझ बिन कुछ खास नही होता ..

दो लाइन हिन्दी शायरी फेसबुक Attitude।

वो बात क्या करें जिसकी कोई खबर ना हो।
वो दुआ क्या करें जिसका कोई असर ना हो।
कैसे कह दे कि लग जाय हमारी उमर आपको।
क्या पता अगले पल हमारी उमर ना हो।

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है!
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है!
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर!
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है!

दो लाइन हिंदी शायरी फेसबुक

मेरे दिल कि सरहद को पार न करना
नाजुक है दिल मेरा वार न करना
खुद से बढ़कर भरोसा है मुझे तुम पर
इस भरोसे को तुम बेकार न करना.

पास आ ज़रा दिल की बात बताऊँ तुझको
कैसे धड़कता है दिल की आवाज़ सुनाऊँ तुझको
आकर देख ले दिल पर नाम लिखा है तेरा
तूँ कहे तो दिल चीर के दिखाऊँ तुझको.

तेरे शहर के कारीगर
बड़े अजीब हैं ऐ खुसूस-ए-दिल
काँच की मरम्मत करते हैं
पत्थर के औजारों से.

आज दिल कर रहा था
बच्चों की तरह रूठ ही जाऊँ
पर फिर सोचा
उम्र का तकाज़ा है मनायेगा कौन.

दो लाइन हिन्दी शायरी फेसबुक Love।

सूरज वो जो दिन भर आसमान का साथ दे
चाँद वो जो रात भर तारों का साथ दे
प्यार वो जो ज़िंदगी भर साथ दे
और दोस्ती वो जो पल-पल साथ दे |

तुम कभी गलतफहमी में रहते हो
कभी उलझन में रहते हो
इतनी जगह दी है तुमको दिल में
तुम वहाँ क्यों नहीं रहते हो.

छुप कर रहना है जो सब से
तो ये मुश्किल क्या है
तुम मेरे दिल में रहो सनम
दिल की तमन्ना हो कर.

दो लाइन हिंदी शायरी फेसबुक

जाने क्यों हमें आंसू बहाना है आता
जाने क्यों हालेदिल बताना नहीं आता
क्यों साथी बिछड़ जाते है हमसे
शायद हमें ही साथ निभाना नहीं आता ।

बड़ी आसानी से दिल लगाए जाते हैं
पर बड़ी मुश्किल से वादे निभाए जाते हैं
लेकर जाती है मोहब्बत उन राहों पर
जहां पर दिये नहीं दिल जलाए जाते हैं.

आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है
​कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है​​
​था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा​​
​कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है​.

दो लाइन शायरी लव।

तू ही बता दिल कि तुझे समझाऊं कैसे
जिसे चाहता है तू उसे नज़दीक लाऊँ कैसे
यूँ तो हर तमन्ना हर एहसास है वो मेरा
मगर उसको ये एहसास दिलाऊं कैसे.

एक अजीब सा मंजर नजर आता है
हर एक आँसू समंदर नजर आता है
कहाँ रखूं मैं शीशे सा दिल अपना
हर एक हाथ में पत्थर नजर आता है.

दिल-ए-नादान तुझे हुआ क्या है
आखिर इस दर्द की दवा क्या है,
हमको उनसे है उम्मीद वफ़ा की
जो जानते ही नहीं वफ़ा क्या है.

ख़ामोशी इकरार से काम नहीं होती
सादगी भी सिंगार से काम नहीं होती
ये तो अपना-अपना नज़रिया है मेरे दोस्त
वर्ना दोस्ती भी प्यार से काम नहीं होती ।

एक सपने की तरह सजा कर रखु
अपने इस दिल में हमेशा छुपा कर रखु
मेरी तक़दीर मेरे साथ नहीं वर्ना
ज़िंदगी भर के लिए उसे अपना बना कर रखु ।

मीठी-मीठी यादे पलकों पे सजा लेना
एक साथ गुज़ारे पल को दिल में बसा लेना
नज़र ना आऊं हकीकत में अगर
मुस्कुरा कर मुझे सपनो में बुला लेना ।।

बात-बात मे जो रुठ जाते हैं।
अनजाने मे उनसे हाथ छूठ जाते है।
कहते है बड़े कमजोर होते हैं प्यार के रिश्ते।
इसमे हँसते-हँसते दिल टूट जते हैं।

हिन्दी दो लाइन शायरी।

अपनी उल्फ़त का यकीन दिला सकते नही।
सारी ज़िन्दगी आपको भुला सकते नही ।
हम ओर क्या दे आपको प्यार के सिवा ।
चाँद ओर तारे तो ला सकते नही।

वक्त के इस मोड़ पर ये कैसा वक्त आया है
ज़ख्म इस दिल का जुबां पर आया है
नही रोते थे हम काँटों की चुभन से
आज फूलों की चुभन ने हमे रुलाया है.

जख्म जब मेरे सीने के भर जायेंगे
आँसू भी मोती बन कर बिखर जायेंगे
ये मत पूछना किस-किस ने धोखा दिया
वरना कुछ अपनों के भी चेहरे उतर जायेंगे.

सीधे रास्तों पर जब-जब ठोकर खायी है
ऐ ज़िन्दगी तब-तब हमे तू लगी परायी है
इश्क़ को समझा खुशियों का सागर मैंने
इश्क़ किया तो जाना ये तो गहरी खायी है

दो कदम तो सब साथ चल लेते है पर
जिन्दगी भर साथ कोई नहीं निभाता
अगर रो कर भूली जाती यादें
तो हँस कर कोई गम न छुपाता.

Hindi do line Facebook shayari.

तेरे रोने से उन्हें कोई
फ़र्क नहीं पड़ता ऐ दिल
जिनके चाहने वाले ज्यादा हो
वो अक्सर बेदर्द हुआ करते है.

Hindi shayari : New Hindi shayari

प्यार वफ़ा सब कुछ मिटा दिया होता
उसका नाम तक भुला दिया होता
अगर तस्वीर उसकी दिल में न होती
तो खुद को भी जला दिया होता !!

जिस के सीने में दर्द ठहरा हो
उस का रोना बहुत ज़रूरी है
उन से होनी हैं ख़्वाब में बातें
मेरा सोना बहुत ज़रूरी है .

Due to spem comment we have closed the comment box of our site.
स्पैम कमेंट के कारण हमने अपनी साइट के कमेंट बॉक्स को बंद कर दिया है।