Tanhai Shayari in Hindi | Read Beat Hindi तन्हाई शायरी

Tanhai Shayari in Hindi : हेलो दोस्तों आज हम इस पोस्ट में Tanhai Shayari in Hindi | रात की तन्हाई शायरी लेकर आए हैं जो की आपको बेहद पसंद आएगी और फ्रेंड अगर आपको हमारा यह पोस्ट रात की तन्हाई शायरी पसंद आए तो कमेंट करके जरूर बताइएगा की आपको यह पोस्ट कैसा लगा।

हमारा ज़िक्र भी…

हमारा ज़िक्र भी अब जुर्म हो गया है वहाँ,
दिनों की बात है महफ़िल की आबरू हम थे,
ख़याल था कि ये पथराव रोक दें चल कर,
जो होश आया तो देखा लहू लहू हम थे।

Our mention has also become a crime there,
It is a matter of days that we were in the eyes of the gathering,
The thought was to stop these stone-pelting by walking,
Those who came to their senses saw that we were blood and blood.

[ रात की तन्हाई शायरी ] [ Tanhai Shayari in Hindi ]
[ रात की तन्हाई शायरी ] [ Tanhai Shayari in Hindi ]

तलाश मेरी थी और भटक रहा था वो,
दिल मेरा था और धड़क रहा था वो।
प्यार का ताल्लुक भी अजीब होता है,
आंसू मेरे थे और सिसक रहा था वो।

The search was mine and he was wandering,
My heart was mine and it was beating.
The relationship of love is also strange,
The tears were mine and he was sobbing.

रात की तन्हाई शायरी…

वक़्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कौन चाहता है अपनों से दूर रहना,
पर वक़्त सबको मजबूर कर देता है।

Time turns noor into disrepute,
heals small wounds,
Who wants to stay away from loved ones,
But time forces everyone.

कुछ फ़ासला नहीं है अदू और शिकस्त में
लेकिन कोई सुराग़ नहीं है गिरफ़्त में

There is no difference between Adu and Kast
But there is no clue.

ज़माना जब दरमियाँ…

ज़माना जब दरमियाँ हमारे आ बैठा था
तुमसे ही नहीं मैं खुद से भी बिछड़ा था
जुदा हो गए दुःख तो है मगर फिर भी
ग़नीमत है इक-दूजे को बेहद चाहा था।

When the time was sitting between us
Not only you, I was separated from myself too
Parted is sad but still
It is fortunate that they loved each other very much.

कहीं बेहतर है तेरी अमीरी से मुफलिसी मेरी,
चंद सिक्कों की खातिर तूने क्या नहीं खोया है,
माना नहीं है मखमल का बिछौना मेरे पास,
पर तू ये बता कितनी रातें चैन से सोया है।

My failure is better than your richness,
What have you not lost for a few coins,
I do not believe that I have a velvet bed,
But tell me how many nights you have slept peacefully.

समझने ही नहीं देती सियासत हम को सच्चाई,
कभी चेहरा नहीं मिलता कभी दर्पन नहीं मिलता।

Politics does not allow us to understand the truth,
Never get a face, never get a mirror.

Tanhai Shayari in Hindi

तेरी इक तस्वीर है मेरी आँखों में
और बस यही इक निशानी रखी है
क़ैस-ओ-कोहकन मिटे थे जिस पे
तेरे हुस्न में वही अदा पुरानी रखी है।

I have a picture of you in my eyes
And that’s the only sign
Qais-o-kohkan was erased on which
The same style has been kept in your beauty.

चाँद से अपना प्रेम लिखूँ या
निंदिया से अपना बैर लिखूँ.
तुम तो इस दिल के धड़कन हो
फिर तुमको भी कैसे गैर लिखूँ।

write my love to the moon or
Write my hatred for nandiya.
you are the heartbeat
Then how can I write non of you too?

फलसफा समझो न…

फलसफा समझो न असरारे सियासत समझो,
जिन्दगी सिर्फ हकीक़त है हकीक़त समझो,
जाने किस दिन हो हवायें भी नीलाम यहाँ,
आज तो साँस भी लेते हो ग़नीमत समझो।

Don’t understand philosophy, don’t think about politics,
Life is only reality, understand the reality,
Know which day the winds are also auctioned here,
Even today, you are breathing and consider it lucky.

कुछ लोग आँखो में रहते हैं,
कुछ लोगों की तस्वीरें नहीं होती।

Some people live in the eyes,
Some people don’t have pictures.

कोई तो दाग़ मेरे सीने पे सज़ा दो ना
ज़ख्मे-दिल पे ज़रा-सा मुस्कुरा दो ना
बस यही चिंगारी मिटा सकती है मुझे
इसे ज़रा-सी हवा दो ना, भड़का दो ना।

Somebody should punish me with a scar on my chest.
Give a little smile on the hurt heart, don’t you
Only this spark can erase me
Don’t give it a little air, don’t inflame it.

Hindi Tanhai Shayari…

जरुरी तो नहीं जीने के लिए सहारा हो,
जरुरी तो नहीं हम जिनके हैं वो हमारा हो,
कुछ कश्तियाँ डूब भी जाया करती हैं,
जरुरी तो नहीं हर कश्ती का किनारा हो।

It is not necessary to have support to live,
It is not necessary that we belong to whom we belong,
Some boats even sink,
It is not necessary that every kayak has an edge.

ये हुआ कि रास्ता चुप-चाप कट गया
इतनी सी वारदात की तश्हीर क्या करें

It so happened that the road was cut silently
What to do after such an incident

इन आँखों को अब….

इन आँखों को अब क्या कहें हम
दो प्यालों में शराब पुरानी रखी है
और कुछ नहीं मुझ शायर के पास
तुम पे लुटाने को बस जवानी रखी है।

What shall we call these eyes now?
Old wine is kept in two cups
nothing else near me poet
You have just kept your youth to be robbed.

आज आंखे थोड़ी सी उलझन में है,
उनकी तस्वीर कहती है जाग ले,
ख्वाब कहते है थोड़ी देर सो ले।

Today my eyes are a little confused.
His picture says wake up,
Dream says sleep for a while.

अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे​,
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे​,
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे​,
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे।

Now I am neither, nor are my times left,
Still, my traps are famous in cities,
If there is life, then new wounds will also be taken,
There are still many old friends left of me.

तन्हाई शायरी

किसी के बुढ़ापे की लाठी किसी के आंख का तारा हूँ मैं,
फिर उसके बाद ही मेरी जान,तुम्हारा हूँ मैं।

I am the apple of someone’s eye,
Then only after that my life, I am yours.

तुमने जब मेरी तरफ़ प्यार से देखा था
मैंने फिर पहरों तेरे बारे में ही सोचा था
रात भर कई दफ़ा मैं सो नहीं पाया था
तेरी याद ने कई दफ़ा इतना सताया था।

when you looked at me with love
I thought of you again
I couldn’t sleep many times throughout the night
Your memory had tormented me so many times.

जो तीर भी आता…

जो तीर भी आता वो खाली नहीं जाता,
मायूस मेरे दिल से सवाली नहीं जाता,
काँटे ही किया करते हैं फूलों की हिफाज़त,
फूलों को बचाने कोई माली नहीं जाता।

Whatever arrow comes, it does not go empty,
Disappointment is not questioned from my heart,
Only thorns protect the flowers,
No gardener goes to save flowers.

Leave a Comment